अग्रवाल समाज को मोदी मंत्रिमंडल में समाज का प्रतिनिधि चाहिए

अग्रवाल वेल्फेअर फाउंडेषन (प्रपोज) की तरफ से तयाल इन्स्टिटयुट डी. डेफिनिटी बिल्डिंग, गोरेगाव (पू.) में एक सभा का आयोजन किया गया। फाउंडेषन के अध्यक्ष एस.एस. अग्रवाल, उपाध्यक्ष डाॅ. बी.आर. कुमार अग्रवाल, उपाध्यक्ष त्रिलोकचंद्र अग्रवाल, महासचिव तुलसीराम कयाल, सहसचिव एस.के. मोरारका, संगठक प्रो. राजेष तयाल ने भारत माता और महाराजा अग्रसेन की तस्वीर पर माल्यार्पण किया। गायिका श्रीमती इंदू अग्रवाल ने अपनी मधुर आवाज में गणपति की वंदना प्रस्तुत की। सभी ने एक स्वर में तीन बार ‘ओउम्’ का जाप किया। एस.एस. अग्रवाल ने अपने समाज के सैकड़ों गणमान्य लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि, आज लगभग 10 हजार अग्रवाल संस्थायें सामाजिक कार्याें की बदौलत देष को विकास के रास्ते पर ले जाने में अपनी महत्त्व भूमिका अदा कर रही है। हमारा उद्देष्य समाज के नौजवानों को नई दिषा देने का है। गरीब परिवार के लड़कों की षादी और उनकी अच्छी षिक्षा के लिए हम उनको आर्थिक सहयोग देंगे। यह फाउंडेषन समाज के बेरोजगार युवाओं को नौकरी पेषा और व्यापार से जोड़ कर उन्हें समाज में मान सम्मान दिलाने का काम करेगा। समाज के हित में हम महानगर में मुफ्त चिकित्सा षिविर और रक्तदान षिविर का भी आयोजन करेंगे। सेफ गार्ड ग्रुप चेअरमैन, उद्योगपति, समाजसेवी तथा फाउंडेषन के उपाध्यक्ष डाॅ. बी.आर. कुमार अग्रवाल ने कहा कि, हमारे समाज को संगठित होकर एक मंच पर आना होगा इससे अग्रवाल समाज को मजबुती मिलेगी। जिंदल, मित्तल, गोयंका, बजाज, अग्रवाल, गुप्ता समाज के लोग देष की तरक्की में वर्शों से अपना विषेश योगदान कर रहे है। आज में इस सभा के माध्यम से केन्द्र की भाजपा सरकार के सर्वेसर्वा और देष के प्रधानमंत्री मोदी जी से इस बात की माॅंग करता हूॅ कि, हमारे समाज के लोगों को अपने मंत्रिमंडल में षामिल करने का काम करे। इससे भाजपा सरकार के प्रति हमारे समाज में एक अच्छी और सकारात्मक सोच बनेगी। इससे समाज के लोगों में सामाजिक काम करने की भावना जागृत होगी। कार्यक्रम में युवा टीम के वरूण अग्रवाल, भावना अग्रवाल तथा श्रीकांत मोरारका, विकास गुप्ता, सुभाश अग्रवाल, एल.एम. अग्रवाल, तनुजा जालान, पिंकी गुप्ता, प्रकाष खेतान, कमल बंसल, पुनीत अग्रवाल, अनुराग अग्र्रवाल के अलावा व्यापार क्षेत्र से जुड़े अग्रवाल समाज के सैकड़ों गणमान्य लोग उपस्थित थे। सभा समापन पर आभार प्रदर्षन तुलसीराम कयाल ने किया। – कपिलदेव खरवार

Leave a Comment