विश्व भोजपुरी सम्मेलन के गाजियाबाद इकाई क शपथ ग्रहण सह पुस्तक लोकार्पण समारोह सम्पन्न भइल

विश्व भोजपुरी सम्मेलन के  गाजियाबाद इकाई क शपथ ग्रहण सह पुस्तक लोकार्पण समारोह  सम्पन्न भइल

विश्व भोजपुरी सम्मेलन के गाजियाबाद इकाई क शपथ ग्रहण समारोह आज आर डी मिमोरियल पब्लिक स्कूल मे आयोजित भइल । समारोह के शुरुवात मे उपस्थित अतिथि लोग माँ सरस्वती की प्रतिमा के  माल्यार्पण के संगही  दियरी प्रज्वलित क के आजु के समारोह क शुरुवात कइलन । ओकरे बाद समारोह मे आइल  लोक गायक श्री ओझा जी सरस्वती माई  के सम्मान मे एगो  भोजपुरी लोकगीत प्रस्तुत कइलन । ओकरे बाद समारोह के अध्यक्ष कृष्णा इंजीनियरिंग कालेज…

Read More

भोजपुरी फिल्म “मन के कचोट” का भव्य मुहुर्त

भोजपुरी फिल्म “मन के कचोट” का भव्य मुहुर्त

   भोजपुरी सिनेमा अभी अपने स्वर्णिम दौर से गुजर रहा है। इस क्रम में भोजपुरी सिनेमा के माध्यम से भोजपुरी भाषा विश्व में और प्रभावशाली बनी है। जितना सिनेमा सशक्त हुआ है उतना ही साहित्य भी सशक्त हुआ है।      इसी क्रम में एम भी ए फिल्मस के बैनर तले बनने जा रही भोजपुरी फिचर फिल्म “मन के कचोट” का दिल्ली के विजय एन्क्लेव, पालम में भव्य मुहुर्त सम्पन्न हुआ। इस फिल्म का कहानी…

Read More

मैथिली-भोजपुरी अकादमी द्वारा आयोजित मैथिली लिटरेचर फेस्टिवल सम्पन्न

मैथिली-भोजपुरी अकादमी द्वारा आयोजित मैथिली लिटरेचर फेस्टिवल सम्पन्न

दिल्ली के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र में मैथिली-भोजपुरी अकादमी द्वारा आयोजित मैथिली लिटरेचर फेस्टिवल के अंतिम दिन ‘सहोदरी संस्कृति’ शीर्षक से मैथिली और भोजपुरी के भाषिक और सांस्कृतिक अन्तर्सम्बन्ध पर संगोष्ठी का आयोजन हुआ। इस संगोष्ठी की अध्यक्षता साहित्य अकादमी के सदस्य अजित दूबे ने किया। उन्होंने अकादमी के नाम की सार्थकता को इंगित करते हुए कहा कि शारदा सिन्हा जैसी मैथिली भाषी कलाकार जब भोजपुरी को संवैधानिक मान्यता दिलाने की बात करती हैं…

Read More

संस्कार भारती गाजियाबाद अपना मासिक संगोष्ठी सम्पन्न

संस्कार भारती गाजियाबाद अपना मासिक संगोष्ठी सम्पन्न

संस्कार भारती गाजियाबाद अपना मासिक संगोष्ठी मे संस्कार भारती के पहिलका परब “नव संवत्सर” मनवलस  । संस्कार भारती के ध्येय गीत आ सरस्वती बंदना के बाद भोजपुरी कवि आ संस्कार भारती शास्त्री नगर इकाई के अध्यक्ष जे पी द्विवेदी के संयोजन आ निर्देशन मे मुख्य अतिथि पूर्वाञ्चल भोजपुरी महासभा के अध्यक्ष अशोक श्रीवास्तव जी आ भोजपुरी कवि केशव मोहन पाण्डेय ,कवियत्री वीणा वादिनी चौबे , मधु भारती , डॉ वीणा मित्तल आ बी एल बत्रा…

Read More

सर्व भाषा साहित्य उत्सव का सफल आयोजन

सर्व भाषा साहित्य उत्सव का सफल आयोजन

नई दिल्ली। भाषा, साहित्य, कला और संस्कृति पर काम करने वाली संस्था ‘सर्व भाषा ट्रस्ट’ द्वारा ‘सर्व भाषा साहित्य उत्सव’ का भव्य आयोजन गांधी शांति प्रतिष्ठान में किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मेहता ओ. पी. मोहन और नेशनल लाॅ यूनिवर्सिटी के वरिष्ठ प्रोफेसर डाॅ. प्रसन्नांशु थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता न्यास के अध्यक्ष व वरिष्ठ साहित्यकार डाॅ. अशोक लव ने की। मेहता ओ. पी. मोहन ने सर्व भाषा ट्रस्ट की नीतियों…

Read More

एक पत्र संत वेलेंटाइन के नाम

एक पत्र संत वेलेंटाइन के नाम

संत वेलेंटाइन सुनो ! आजकल बड़ा जलवा है गुरु तुम्हारा । फेसबुक,ट्वीटर, व्हाट्स एप,अख़बार के पन्ने, किसी कालखण्ड का बुद्धू बक्सा आज जो बेहद चतुर और अनिवार्य हो गया है उसमें , हर कहीं,हर ओर तुम्हारी चर्चा है।इतनी चर्चा है कि वसंत का मुख भी पीला पड़ गया है।वैसे पीला सिर्फ तुम्हारी वजह से नहीं खुद उसके चाहने वालों की तरफ़ से भी है।कोयल नहीं कूकती, मंजरियाँ दूर -दूर तक नहीं दीखतीं, मदनोत्सव नहीं होता तो…

Read More

वसंत आया है

वसंत आया है

चारो ओर आहट है वसंत की।गाँव-नगर,डाल-फुनगी,वन-उपवन ।हर अँगनाई,हर अंगड़ाई इतराता डोल रहा है अनंग।शीत ने जाते-जाते मौसम के हाथों थोड़ी शीतलता थमा दी है,कलियों ने हँसकर खुशबू।चिड़ियों ने कलरव करके तो कोयल ने हँसकर पंचम सुर के हरकारे भेज सबको वसंतोत्सव का न्योता भेज दिया है। बेनूर चेहरों पर थोड़ी सी रंगत,उदास होठों पर इत्ती सी मुस्कराहट और बेचैन आत्माओं को पूरी राहत देने के भरपूर प्रयास में है प्रकृति।लेकिन आत्माओं के ताले कम ही…

Read More

इस होली के रंग में

इस होली के रंग में

मैने तन-मन खुब भिंगोया , इस होली के रंग में , तुम भी प्रेम की इस खुश्बू को रख लो अपने संग में ।   ऐसा रंग रंगें मिलजुल कर फीकी ना हो पाये , जीवन-उत्सव की खुशियों से हर कोना भर जाये ।   अब के बरस कुछ यूं कर डालें सबको साथ बुलाकर , अपने दिल की खुशियां बाटें सबको गले लगाकर ।   अबीर-गुलाल और झांझ-मजीरे सबका दिल बहलायें , रौशन दिल…

Read More

मनीषा श्रीवास्तव के होली के गीतन के एल्बम 5 फरवरी के लांच होखी

मनीषा श्रीवास्तव के होली के गीतन के एल्बम 5 फरवरी के लांच होखी

आज जब श्लील गीतन के बात होता , त एगो भोजपुरी के पारंपरिक गीतन के अपने मखमली आवाज से सजावे आ सँवारे वाली गायिका मनीषा के इयाद करल जरूरी हो जाला । आज ले हम उनुका जेतनी गीत सुनले बानी, सब गीतन मे अपने माटी के सुगंध पवले बानी । कबो “मिथिला नगरिया मे शोर भइलें” , त कबों “अँगना मे रोवेली दुलारी धिया”  त कबों कवनों आउर , उनुकर गावल कूल्हे गीत मन के…

Read More

ढाई आखर प्रेम का

ढाई आखर प्रेम का

प्रेम कहल केकरा के जाला , ई  एगो बिचारे जोग बात ह ।  प्रेम एगो अलगे चीजु ह आ आजकल  जेकरा के प्रेम कहल जा रहल  ह , उ प्रेम ना ह , उ आसक्ति ह, मोह ह । चीज होती है प्रेम । आज जेकरा के प्रेम कहल जा रहल बा  उ दोसरा के संगे अपना के जोड़ के पहिचान बनावे के एगो तरीका भर ह । एकरा के प्रेम ना कहाला , एकरा…

Read More
1 2 3 5