ढाई आखर प्रेम का

ढाई आखर प्रेम का

प्रेम कहल केकरा के जाला , ई  एगो बिचारे जोग बात ह ।  प्रेम एगो अलगे चीजु ह आ आजकल  जेकरा के प्रेम कहल जा रहल  ह , उ प्रेम ना ह , उ आसक्ति ह, मोह ह । चीज होती है प्रेम । आज जेकरा के प्रेम कहल जा रहल बा  उ दोसरा के संगे अपना के जोड़ के पहिचान बनावे के एगो तरीका भर ह । एकरा के प्रेम ना कहाला , एकरा…

Read More

प्रेम -दीप

प्रेम -दीप

मोहब्बत के दीये, ऐसे जलाएं, गगन के तारकों से जगमगायें . जहाँ नफरत की आँधी तोड़ती ,दरवाज़ा -ए -मिल्लत , चलो वैसे जहां को, भूल जाएँ . महकते फूल की मानिंद ,कुछ एहसान यूँ कर दें , मचलती तितलियों को खूब भायें. यही अंजाम होना है ,यहाँ पर प्यार वालों का , हँसे दो पल औ फिर आँसू बहायें . कभी दीपक ,कभी जुगनू व सूरज -चाँद सा बनकर , उजालों की नयी महफिल सजायें।…

Read More

आया ऋतुराज

आया ऋतुराज

देखो ! इतराते तरुवर में और लहराती फ़सलों में भी .. लगा सुनाई देने फिर से , ऋतु परिवर्तन का उद्घोष ..! कान्ति भास्कर की अब तो , निसदिन हो रही अधिक प्रखर .. तीव्र तेज का वेष धर , हुआ ताप अब अधिक मुखर ..! इधर – उधर मुंडेरों पर और एक डाल से दूजी डाली खग , भ्रमर चहकते हैं ऐसे उनमें भी नव-उमंग हो जैसे ..! नव किस्लय / नव पल्लव ,…

Read More

गीत

गीत

पूजी गनेस लछमी चाहत बानी अउरी खेदेले दरिद्दर माई पीटी सूपा दउरी ॥   लीपि पोती दुअरा बनावेली गोधना करें दुवारे गोबरी पुवरा बने पोतना गाई गाई गीतिया सराप दीहें चउरी  ॥   मुसरा से कुटी के हंसत मोर धियरी भइया के दें बजरी माथे ओढ़ी चुनरी रहिया निरेखी भउजी खोली, चचरा धउरी ॥   संगे नवका चिउरा चिनिया के मिठाई सझिए पुजइहें देव होई बसिया बटाई तबो बहिनी दुलारी भाई करी चिरउरी ॥  …

Read More

लाल बिहारी लाल “पर्यावरण संरक्षक ”सम्मान से सम्मानित

लाल बिहारी लाल “पर्यावरण संरक्षक ”सम्मान से सम्मानित

 – सोनू गुप्ता नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्तर परकार्यरत संस्था सरस्वती एजूकेशन वेलफेयरअवेयरनेस (सेवा) सोसायटी ने लाल कला मंच के सचिव पर्यावरण प्रेमी एवं दिल्ली रत्नबिहारी लाल का का 44वां जन्मोत्सव मीठापुर चौक पर धूमधाम से वरिष्टसमाजसेवी लोक नाथ शुक्ला की अध्यक्षता एवंका. जगदीश चंद्र शर्मा के आतिथ्य में मनाया। इस अवसरहमारा बुंदेलखंड से पधारे वरिष्ठ लेखक एवंकवि राधेश्याम गुप्त,सेवा सोसायटी केमहासचिव धुरेनद्र राय एवं अतिथियों द्वारा लाल कला मंच केसंस्थापक सचिव एवं पत्रकार लाल बिहारी लाल को “पर्यावरण संरक्षक“ सम्मान से सम्मानितकिया गया। श्री लाल को दिल्ली के…

Read More

दुर्गा माई से हथजोरिया

दुर्गा माई से हथजोरिया

मति, गतिहीन बानीं, बुधिओ, बिबेक न बा, तबो हाथ जोरि ठाढ़ बानीं अगुवानी के. दरद, अभाव, पीर महलो का होला, बाकी सबका से ढेर बाटे टुटही पलानी के. मनवाँ के अंगना नयनजल लिपनीं, त दियना अँजोर करे तनवाँ- दलानी के. आव$, आव$, आव$ अब देर ना लगाव$, हम राह ताकतानीं, गुनखानी महारानी के.   नाहीं कुछ चाह बा कि दोसरा के हक छीनि, हमरे दुआर प बहा दीं उपरवछा. हमरा के पगड़ी त दोसरो के…

Read More

सात समुंदर पार लंदन में बही भोजपुरिया बयार

सात समुंदर पार लंदन में बही भोजपुरिया बयार

रविवार को लंदन में आयोजित ढिशुम भोजपुरी अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म अवार्ड समारोह में जुटे भोजपुरिया फ़िल्मी हस्तियों की मौजूदगी ने जहां एक ओर भोजपुरी की आवाज को गांव जवार से निकाल कर सात समन्दर पार परदेस में लाकर चर्चित कर दिया वही दूसरी ओर भोजपुरी की दुनिया को विस्तार देते हुए अंतरराष्ट्रीय प्लेटफॉर्म दिया। हालाँकि विदेशी धरती पर यह तीसरा ढिशुम अंतर्राष्ट्रीय भोजपुरी फ़िल्म अवार्ड (आईबीफा) समारोह है। इससे पहले मॉरिशस और दुबई में भी यह…

Read More

गाजियाबाद के धरती से पहिली बेरा कवनों भोजपुरी किताब के लेखन आउर लोकार्पण भइल —-

गाजियाबाद के धरती से पहिली बेरा कवनों भोजपुरी किताब के लेखन आउर लोकार्पण भइल —-

  जयशंकर प्रसाद द्विवेदी के लिखल भोजपुरी काव्य संकलन ” पीपर के पतई ” के लोकार्पण कल पूर्वाञ्चल भोजपुरी महासभा के आहूत परिचरचा “भोजपुरी भाषा के रचनात्मक आंदोलन ” जवन कविनगर स्थित वरिष्ठ नागरिक मनोरंजन केंद्र मे भइल । भोजपुरी भाषा के विकास खाति का करल जा सकेला , कइसे करल जा सकेला , एह आंदोलन मे अबे तक का का भयल बा , कब से भोजपुरी के रचनात्मक आंदोलन शुरू भइल आउर आगे एह…

Read More

क्रोधी पर लोक कल्याणकारी थे भगवान परशुराम-लाल बिहारी लाल

क्रोधी पर लोक कल्याणकारी थे भगवान परशुराम-लाल बिहारी लाल

भगवानपरशुराम को उनके हठीस्वभाव, क्रोधऔर अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने के लिए याद किया जाता है। भगवान परशुराम एक उदाहरणहैं कि क्रोध इंसान को बर्बाद कर सकती है, लेकिन अगर हम अपनेक्रोध और अन्य इंद्रियों पर काबू पा लें तो हम भी उतम लोगों की श्रेणी में आ सकतेहैं। भगवान परशुराम विष्णु के छठें अवतार हैं जो वामन एवं रामचंद्र के बीच का कालहै। भगवान परशुराम बैशाख शुक्ल पक्ष अक्षय तृतीया के पुण्य दिवस पर…

Read More

निर्माता अनुज शर्मा ने तीन फिल्मे साइन की

निर्माता अनुज शर्मा ने तीन फिल्मे साइन की

मशहूर निर्देशक अनिल शर्मा के भाई अनुज शर्मा ने अपनी फिल्म,’ इश्क़ जुनून- दी हीट इस ऑन’ में दो हीरो लिया था,जिसमें से एक हीरो रंगशाही थे। यह फिल्म काफी सफल रही और निर्माता को रंगशाही का काम काफी पसंद आया। जिसके कारण निर्माता अनुज शर्मा ने अपने बैनर ‘शांतकेतन एंटरटेनमेंट’ के तले बन रही तीन फिल्मों के लिए बहुमुखी प्रतिभाशाली एक्टर रंगशाही को बतौर एक मुख्य नायक के तौर पर साइन किया है। जोकि जल्द ही शुरू होगी।…

Read More
1 2 3 4 6