भोजपुरी भाषा पर क्यों मची खलबली?

भोजपुरी भाषा पर क्यों मची खलबली?

अजीत दुबे@bhojpuripanchayat.in – भोजपुरी संवैधानिक मान्यता की दहलीज पर खड़ी है। केंद्रीय सरकार में शामिल कई मंत्रियों द्वारा दिये गए हालिया आश्वासनों से यह उम्मीद सबल हुई है। 20 करोड़  भोजपुरी भाषियों के लिए यह जहाँ सुकून देने वाली सूचना है वहीं दूसरी ओर चंद कथित हिंदी सेवी, हिंदी बचाओं का अनर्गल व बेतुका प्रलाप कर रहे हैं। इन छद्म हिंदी के हितैषियों को ऐसा लगता है कि भोजपुरी कि संवैधानिक मान्यता से हिंदी विखंडित होगी।…

Read More

भोजपुरी विरोध का क्यों?

भोजपुरी विरोध का क्यों?

कुलदीप श्रीवास्तव भाषा का विरोध और वह भी अपने देश की भाषा का विरोध, पारंपरिक, सांस्कृतिक एवं प्राचीन भाषा का विरोध! एक ऐसी भाषा का विरोध जो हर तरह से समृद्ध है और अपने ही देश में अपने उचित मान-सम्मान के लिए संघर्षरत है। जिस भाषा को आधिकारिक दर्जा दिलवाने के लिए लोगों को एकमत होना चाहिए, उसी भाषा का विरोध शर्म की बात नहीं तो और क्या हो सकती है। जी हाँ,आज कल हिंदी…

Read More