राम और भारतीय जन-मानस

राम और भारतीय जन-मानस

केशव मोहन पाण्डेय राम! भारतीय जनमानस के अंतःकरण में बसा नाम। राम का नाम जन-जन को क्षण-क्षण प्रेरित करता है। प्रेरित करता हैं अनाचार का विरोध करने के लिए। प्रेरित करता है बुराई का नाश करने के लिए। प्रेरति करता है राम के आदर्शों का अनुगामी बनने के लिए। राम अठाइसवें चतुर्युगी के त्रेतायुग में हुए राजा थे। राम का चरित्र इतना विशाल है कि आज कलियुग में भी वे घर-घर में, जन-जन के मन…

Read More